a
हरियाणा का सर्वाधिक लोकप्रिय संध्या दैनिक
Homeमेरा सिरसालगातार दूसरे दिन गांव-गांव जाकर किसानों से साधा सम्पर्क

लगातार दूसरे दिन गांव-गांव जाकर किसानों से साधा सम्पर्क

लगातार दूसरे दिन गांव-गांव जाकर किसानों से साधा सम्पर्क

सिरसा 17 नवंबर,कृषि बिलों के विरोध को लेकर किसान यूनियनों ने कमर कस ली है। दिल्ली में आगामी 26 नवंबर के पड़ाव को लेकर किसान नेता अब गांवों में सम्पर्क साधने के लिए उतर चुके हैं। मंगलवार को किसान नेता रणधीर जोधकां ने लगतार दूसरे दिन दर्जनभर गांवों में जनसभाएं कर किसानों को केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा पारित किसान बिलों के विरोध में एकजुट करने का प्रयास किया। उन्होंने किसानों को एकजुट होने का आह्वान करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों कृषि अध्यादेश यदि लागू होते हैं तो किसानों का बुरा दौर शुरू हो जाएगा। इन बिलों में सरकार ने बड़े-बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए किसानों के हितों को गिरवी रख दिया है। यदि समय रहते किसानों ने इन बिलों के विरोध में अपनी आवाज बुलंद नहीं की तो आने वाले समय में किसानों ही नहीं, बल्कि समूची किसानी का अस्तित्व ही खत्म हो जाएगा। उन्होंने कहा कि हर किसान को अपनी व्यक्तिगत समस्या को छोड़कर समस्त किसानों की बात का समर्थन करते हुए एकजुटता का संदेश देना होगा। इसलिए आगामी 26 नवंबर को दिल्ली में किसानों को बड़ी संख्या में अपनी उपस्थिति दर्ज करवानी है। रणधीर जोधकां ने इससे पूर्व चाडीवाल, शेरपुरा, साहुवाला द्वितीय, नाथुसरी, दड़बा, नेजिया खेड़ा, अलीमोहम्मद आदि गांवों में जनसम्पर्क सभाएं की। उन्होंने बताया कि तीन दिवसीय दौरे में नाथूसरी चोपटा ब्लॉक के हर गांव में जाकर किसानों से सम्पर्क किया जा रहा है और काले कृषि कानूनों के खिलाफ एकजुट किया जा रहा है।

Author

piyushsharma43043@gmail.com

No Comments

Leave A Comment