Rama Times
crimeइंटरनेशनलटेक्नोलॉजीधर्मनेशनलराजनीतिस्पेशल स्टोरी

नेतन्याहू के मंत्री का विवादित बयान: ‘गोलियों से मार दो’; हमास सहयोगी ने दिया करारा जवाब |

gaja

इस्राइली सुदूर दक्षिणपंथी मंत्री इतामार बेन ग्विर ने इस्राइली जेलों में बंद फिलिस्तीनी कैदियों की हत्या की मांग की है। बेन ग्विर ने कहा कि कैदियों को खाना खिलाने के बजाय उनके “सिर में गोली मार देनी चाहिए।” इस सुदूर दक्षिणपंथी मंत्री ने इस्राइली कनेसेट (संसद) से कैदियों को फांसी देने के लिए एक विधेयक पारित करने की अपील की है।

#### बेन ग्विर का बयान:
इतमार बेन ग्विर, जो इस्राइली सरकार में सुदूर दक्षिणपंथी विचारधारा का प्रतिनिधित्व करते हैं, ने अपने बयान में कहा, “इन कैदियों को खाना खिलाने के बजाय उनके सिर में गोली मार देनी चाहिए। यह देश की सुरक्षा के लिए आवश्यक है।”

#### प्रतिक्रिया:
फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद (पीआईजे) ने बेन ग्विर के बयान की कड़ी निंदा की है। पीआईजे ने कहा कि बेन ग्विर की मांग “रक्तपात पर आधारित एक जघन्य आपराधिक मानसिकता” को दर्शाती है। पीआईजे के प्रवक्ता ने कहा, “इस तरह के बयान से यह स्पष्ट होता है कि इस्राइली सरकार की नीतियां मानवीय अधिकारों के खिलाफ हैं।”

#### अन्य प्रतिक्रियाएं:
बेन ग्विर के इस बयान के बाद विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और मानवाधिकार संगठनों ने भी अपनी नाराजगी जताई है। कई संगठनों ने इस्राइली सरकार से अपील की है कि वे ऐसे विवादित बयान देने वाले मंत्रियों पर कार्रवाई करें।

#### निष्कर्ष:
इस्राइल-फिलिस्तीन विवाद एक बार फिर से उभरता दिख रहा है, जहां दोनों पक्षों के बीच बयानबाजी ने स्थिति को और गंभीर बना दिया है। ऐसे में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को इस मुद्दे पर सतर्क रहने की आवश्यकता है और शांति स्थापना के प्रयासों को बढ़ावा देना चाहिए।

Related posts

केजरीवाल जानबूझकर वजन कम कर रहे हैं, घर का खाना भी लौटा देते हैं: तिहाड़ जेल प्रशासन की रिपोर्ट

R K Bharadwaj

“कर्नाटक में कांग्रेस की बढ़त, BJP की स्थिति खतरनाक: मोइली”

R K Bharadwaj

पीएम मोदी से मिलेंगे चंद्रबाबू नायडू: 2014 एपी एक्ट के तहत पैकेज की मांग, विशेष दर्जा नहीं

R K Bharadwaj

Leave a Comment