Rama Times
इंटरनेशनलखेलनेशनलस्पेशल स्टोरी

कल के सभी वीडियो और तस्वीरें देखना…: भारत की विजय परेड के बाद भावुक हुए आर अश्विन

Indian cricket team

### मुंबई में विजय परेड

मुंबई के मरीन ड्राइव और उसके आस-पास की सड़कों पर प्रशंसकों की भीड़ उमड़ पड़ी जब भारत की T20 विश्व कप विजेता टीम ने खुले बस में विजय परेड की। नरीमन पॉइंट से लेकर वानखेड़े स्टेडियम तक भारतीय टीम ने इस परेड में भाग लिया और लाखों खुशहाल लोगों ने उनका स्वागत किया।

### आर अश्विन की भावनाएं

भले ही स्पिनर रविचंद्रन अश्विन इस टूर्नामेंट के लिए टीम का हिस्सा नहीं थे, लेकिन उन्होंने अपने यूट्यूब वीडियो के माध्यम से इसके बारे में चर्चाएं कीं। एक क्लिप में, अश्विन और रॉबिन उथप्पा को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ फाइनल में भारत की जीत के बाद भावुक होते हुए देखा गया था। इस साल की शुरुआत में, 500 से अधिक टेस्ट विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बने अश्विन ने अब मुंबई में हुई विजय परेड और टीम का स्वागत करने वाली भीड़ पर अपने विचार साझा किए।

अश्विन ने कहा, “कल मुंबई में हुई सभी उत्सवों के वीडियो और तस्वीरें देखना मेरे दिल को भर देता है। यह राष्ट्र खेल को इतना कुछ देता है और देता रहेगा। एक बार फिर से चैंपियनों पर गर्व है।” 37 वर्षीय अश्विन ने 65 T20Is में भारत के लिए 72 विकेट लिए हैं।

### ‘सचमुच एक पूर्ण चक्र का क्षण’

अश्विन ने 2013 चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से भारतीय टीम के साथ बड़े खिताबों से चूकने का दर्द महसूस किया है। अश्विन 2011 विश्व कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे, और यह इस साल के T20 विश्व कप से पहले का अंतिम बड़ा खिताब था जो उन्होंने जीता था। हाल के दिनों में भारतीय टीम के साथ विश्व खिताबों से चूकने का दर्द अश्विन ने महसूस किया है, जिसमें उनका अंतिम T20I मुकाबला 2022 T20 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ 10 विकेट की हार था।

अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर पहले कहा था कि फाइनल की आखिरी गेंद के बाद भारतीय खिलाड़ियों, खासकर सीनियर सितारों जैसे रोहित शर्मा, विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या के टूट जाने का दृश्य दर्शाता है कि यह जीत उनके लिए कितना मायने रखती थी।

अश्विन ने कहा, “अविश्वसनीय। मैंने वर्षों से क्रिकेट देखा है, मैंने इसे खेला है, मैंने 2011 में विश्व कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी जैसी ट्रॉफियां जीती हैं। लेकिन, जिस तरह से खिलाड़ियों ने जीत पर अपनी भावनाओं को प्रकट किया, यह उनके लिए सब कुछ था। द्रविड़ के 2007 में विदा होने से लेकर रोहित और विराट के कई खिताब जीतने के करीब आने तक, यह सचमुच एक पूर्ण चक्र का क्षण था।”

यह भारतीय क्रिकेट के लिए एक महत्वपूर्ण जीत है, और प्रशंसकों के दिलों में इसकी यादें हमेशा ताजा रहेंगी। अश्विन और अन्य खिलाड़ियों की भावनाएं इस ऐतिहासिक क्षण को और भी खास बनाती हैं।

Related posts

करोड़ों की कमाई के बाद भी ‘गदर 2’ के आगे फीकी पड़ी ‘कल्कि 2898 AD’, सनी देओल का जादू बरकरार

R K Bharadwaj

डीएसपी कुलदीप सिंह बेनिवाल के नेतृत्व में नशा मुक्ति पुलिस टीम ने गदराना में लोगों को नशे से मुक्ति दिलाने के लिए किया प्रेरित |

R K Bharadwaj

एयर इंडिया यात्री की वायरल शिकायत से उड़ान पुनर्निर्धारण की समस्याएं उजागर, एयरलाइंस की प्रतिक्रिया

R K Bharadwaj

Leave a Comment