Rama Times
इंटरनेशनलकैरियरखेलटेक्नोलॉजीनेशनलस्पेशल स्टोरी

कप्तान बनते ही बदली किस्मत, गेंदबाजों संग किया खिलवाड़, धमाकेदार अंदाज में फॉर्म में लौटे सूर्यकुमार यादव:

नई दिल्ली, स्पोर्ट्स डेस्कपिछले मैच में गोल्डन डक पर आउट होने का हिसाब सूर्यकुमार यादव ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में बखूबी अंदाज में चुकता कर दिया है। आईपीएल 2023 में पहली बार सूर्या का बल्ला चला और क्या खूब चला। केकेआर के खिलाफ कप्तानी संभालते ही मानो सूर्यकुमार की किस्मत पलट गई और मायानगरी में मुंबई के बल्लेबाज ने जमकर धमाल मचाया।

सूर्यकुमार ने ताबड़तोड़ अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए महज 25 गेंदों 43 रनों की विस्फोटक पारी खेली। 43 रनों की विस्फोटक पारी के दौरान सूर्या अपने उसी पुराने अंदाज में नजर आए और उन्होंने केकेआर के गेंदबाजों की जमकर खबर ली। 172 के स्ट्राइक रेट से खेलते हुए सूर्या ने अपनी पारी के दौरान 4 चौके और 3 गगनचुंबी छक्के जमाए।

पिछले चार मैचों में फ्लॉप रहे थे सूर्या

आईपीएल 2023 में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मैदान पर उतरने से पहले सूर्यकुमार यादव का बल्ला पूरी तरह से खामोश रहा है। सूर्या ने इससे पहले खेले 4 मैचों में मात्र 27 रन बनाए थे और वह एक दफा जीरो पर भी पवेलियन लौटे थे।

ईशान ने भी खेली तूफानी पारी

सूर्यकुमार यादव से पहले ईशान किशन ने मुंबई इंडियंस को तूफानी शुरुआत दी। ईशान ने महज 25 गेंदों में ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए 58 रन कूटे। ईशान ने 232 के स्ट्राइक रेट से खेलते हुए अपनी इस पारी के दौरान 5 चौके और पांच छक्के जमाए। ईशान ने रोहित के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए मात्र 4.5 ओवर में 65 रन ठोके।

वेंकटेश ने ठोका शतक

इससे पहले, वेंकटेश शुरुआत से ही शानदार फॉर्म में नजर आए और वानखेड़े के मैदान पर मुंबई के गेंदबाजों की जमकर खबर ली। वेंकटेश ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मात्र 23 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। 200 से अधिक के स्ट्राइक रेट से खेलते हुए वेंकटेश ने अपनी शतकीय पारी के दौरान 5 चौके और 9 गगनचुंबी छक्के और 51 गेंदों पर 104 रन कूटे।

 

Related posts

Elevate Your Brand with Design Caps: Unleashing the Power of Creative and Professional Graphic Design.. #डिज़ाइन कैप्स के साथ अपने ब्रांड को ऊपर उठाएं :

R K Bharadwaj

Rajasthan BSTC Pre DElEd Result 2022

R K Bharadwaj

चिट्टे पर लगी लगाम, सरकारों की नाकाम कोशिशें” – गगनदीप बाहिनीवाल

R K Bharadwaj

Leave a Comment